8 अक्तूबर को राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले की नोहर तहसील के तहत आने वाले अनेक गांवों के किसानों ने सिंचाई और पानी चोरी की समस्याओं को लेकर उपखंड कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन आयोजित किया। यह प्रदर्शन मज़दूर किसान व्यापारी संघर्ष समिति की अगुवाई में किया गया। तहसीलदार को सात सूत्रीय मांग पत्र सौंपा। किसानों ने चेतावनी दी है कि यदि उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया तो वे 1 नवंबर से अनिश्चितकालन धरना शुरू कर देंगे।

बड़ी संख्या में किसान रैली के रूप में उपखंड कार्यालय पहंुचे। किसानों ने राज्य सरकार व प्रशासन के खि़लाफ़ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद सभा की गई। सभा को संबोधित करने वालों में शामिल थे, मज़दूर किसान व्यापारी संघर्ष समिति के अध्यक्ष मदन बेनीवाल, लोक राज संगठन के सर्व हिन्द उपाध्यक्ष हनुमान प्रसाद शर्मा, पूर्व सरपंच ओम सहू के साथ-साथ समिति के अनेक किसान नेता।

वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश के अधिकतर क्षेत्रों में जमकर बारिश होने की बात को सरकार खुद मान रही है। बताया जा रहा है प्रदेश के बांधों व नहरों में पर्याप्त पानी भी उपलब्ध है। इसके बावजूद किसान सिंचाई के पानी को तरस रहे हैं।

किसानों के प्रतिनिधयों ने कहा कि सिंचाई का पानी उपलब्ध होने के बावजूद, क्षेत्र के किसानों को सिंचाई के लिये पर्याप्त पानी नहीं देना सरकार व प्रशासन की किसान-विरोधी नीयत को उजागर कर रहा है। किसानों ने कहा कि उन्हें महीने में एक बार ही सिंचाई का पानी दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में ऐसी कोई फ़सल नहीं है जो महीने के एक बार पानी मिलने पर क़ायम रह सके। ऐसे में पखवाडे़ भर बाद सिंचाई का पानी देने से ही किसान फ़सल का उत्पादन कर सकेगा।

सभा के उपरांत, किसानों ने तहसीलदार को ज्ञापन देकर मांग की कि – अमरसिंह ब्रांच में निर्धारित सिंचाई का पानी दिया जाये, वितरिकाओं की बाउंड्री निकालकर वहां उगे पेड़ हटाये जायें, नहरों व माइनरों की मरम्मत करवाई जाये, सिंचाई के पानी की चोरी पर अंकुश लगाया जाये, न्यायालय के आदेशानुसार शेष रहे मोघों को सही करवाया जाये, डिच माइनर निकालकर आसपास की भूमि को सिंचित किया जाये तथा खालोें पर अवैध चिनाई को तोड़ा जाये।

इस मौके पर रघुवीर छीपा, सिकंदर अराई, जुगलाल खाती, रामेश्वर कुम्हार, रज्जाक मोहम्मद, कुंभाराम सिंगाठिया, कन्हैयालाल जैन, कृष्ण नोखवाल, मोहन नुंईया, सुमेर सिंह राजपूत, आदि मौजूद रहे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *