thumbnail

दक्षिण दिल्ली के ओखला औद्योगिक क्षेत्र में स्थित संजय कालोनी में, पानी के बुनियादी अधिकार को लेकर 22 जुलाई, 2018 से लोक राज संगठन की स्थानीय समिति की अगुवाई में अभियान चलाया जा रहा है।
अभियान के तहत, संजय कालोनी के बी-ब्लाक, डी-ब्लाक, ई और एफ-ब्लाक में नुक्कड़ सभाएं आयोजित की गईं। इन नुक्कड़ सभाओं में स्थानीय निवासियों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया।

thumbnail

 

 

लोक राज संगठन के कार्यकर्ता पावर प्वाइंट प्रस्तुति करते हुए

विदित है कि लोक राज संगठन की अगुवाई में दिल्ली की विभिन्न कालोनियों की स्थानीय समितियां, बीते कई सालों से निरंतर घर-घर पानी के कनेक्शन की मांग को लेकर संघर्ष करती आ रही हैं। जिसके तहत 19 मई, 2016 को दिल्ली सरकार को एक मांग पत्र दिया गया था। सरकार द्वारा मांगपत्र का कोई जवाब न देने के विरोध में लोक राज संगठन ने 27 जुलाई, 2016 को जंतर-मंतर पर विशाल धरना आयोजित करके दिल्ली सरकार को ज्ञापन सौपा। अंततः 30 अगस्त, 2016 को दिल्ली सरकार ने समस्त कालोनियों में ‘जल अधिकार कनेक्शन योजना’ के तहत पानी देने की घोषणा की थी। परंतु ऐलान को 2 साल हो गए हैं यह योजना लागू नहीं की गई। इसलिए यह जल अभियान आने वाले महीने में एक विशाल प्रदर्शन की तैयारी में है।
अभियान के तहत, एक पावर प्वाइंट प्रस्तुति के ज़रिए, टैंकर वितरण में होने वाले घोटालें, पानी कनेक्शन न देने के लिए बहाने तथा वोट बैंक की राजनीति का पर्दाफाश किया गया। दिल्ली की आधी आबादी, श्रमिक बस्तियों, यानी झुग्गी-बस्तियों, कच्ची कालोनियों व पुर्नवास कालोनियों में रहती है। दिल्ली की ये कालोनियां अपनी स्थापना से लेकर आज तक ‘पीने के पानी के कनेक्शन’ से वंचित हैं। सत्ता में काबिज राजनीतिक पार्टियों के लिए, इन बस्तियों में पानी के टैंकर की बंदरबांट चुनावों में वोट बैंक का एक साधन है। इसलिए किसी भी पार्टी की सरकार दिल्ली को टैंकर मुक्त नहीं करना चाहती।
प्रस्तुति के अंत में, सभा में उपस्थित लोगों से चर्चा की जाती है। स्थानीय निवासी इस अभियान में उत्साह से साथ जुड़ रहे हैं। इन नुक्कड़ सभाओं में कई स्थानीय निवासी अपनी बातें रखते हैं। वे अपनी बातों में कह रहे हैं कि ‘आओ हम अपने सभी राजनीतिक मतभेदों व पार्टीवादी दुश्मनियों को भूलकर, लोगों के पीने के पानी के अधिकार के लिए लड़ें। स्थानीय निवासी अपने ब्लाॅक में प्रस्तुति पेश करने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।

By admin