img_0440.jpg

img_0440.jpg10 जनवरी, 2016 को पूर्वी दिल्ली के पटपड़ गंज इलाके में राजकीय आतंकवाद और बढ़ती सांप्रदायिकता पर एक सभा की गई। यह सभा लोक राज संगठन के द्वारा देशभर में चलाये जा रहे अभियान के तहत की गई थी। सभा में लोक राज संगठन द्वारा तैयार की गई प्रस्तुति को पेश किया गया जिसका विषय था – ज़मीर का अधिकार, हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है!, बढ़ते सांप्रदायिक और फासीवादी आतंक का मुकाबला करें!

इस सभा में इलाके के नौजवानों, छात्रों और छात्राओं ने हिस्सा लिया। इलाके की लोक राज समिति के एक नौजवान सदस्य ने इस प्रस्तुति को तैयारी करके बहुत ही विस्तार से पेश किया। प्रस्तुति के बाद एक जीवंत चर्चा हुई, इस चर्चा में बहुत से नौजवानों ने अपनी बातें रखीं और सवाल पूछे।

प्रस्तुति में बहुत ही विस्तार से समझाया गया है कि हमारे देश में आजादी के बाद सत्ता में कोई परिवर्तन नहीं किया गया। हमारे देश में अंग्रेजों द्वारा बनाये गये कानूनों को ही संविधान में शामिल किया गया। बर्तानवी शासन के दौरान इन कानूनों का मकसद लोगों के संघर्षों को कुचलना था और आज भी इन कानूनों का मकसद लोगों के संघर्षों को कुचलना है। अनेक उदाहरणों से यह समझाया गया कि जब-जब लोग अपने अधिकारों के लिये संघर्ष करते हैं तो पुलिस और सेना उस संघर्ष को कुचलने का काम करती है और बड़ी ही बर्बरता से लोगों का कत्ल करती है।

img_0441_0.jpgप्रस्तुति देखकर उपस्थित नौजवान बहुत उत्तेजित हुए और उन्होंने ने कहा कि यह बहुत ही जानकारी पूर्ण प्रस्तुति है। ऐसा इतिहास में हमें नहीं पढ़ाया जाता। कई नौजवानों ने अपनी बात रखी जिन्होंने अपनी बातों में स्पष्ट किया कि वे जनता के हाथों में सत्ता लाने के संघर्ष में बढ़चढ़कर हिस्सा लेंगे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *