संगम विहार गुप्ता कालोनी के लोगों ने घर-घर में पानी की सप्लाई की मांग को लेकर 28 जून, 2015 को एक जनसभा का आयोजन किया था। जिसमें वहां के विधायक दिनेश मोहानिया को सर्वसम्मति से लिखित पत्र द्वारा बुलाया गया था। जनसभा के अंत तक उनके कार्यकर्ताओं से बात होती रही लेकिन अंत में वह नहीं आये।

जन सभा में फैसला हुआ कि लोक राज समिति संगम विहार के तरफ से एक प्रतिनिधिमंडल उनसे समय लेकर मिलने जायेंगे। प्रतिनिधिमंडल 26 जुलाई, 2015 को 11 बजे दिनेश मोहानिया के ऑफिस जी-12/1 संगम विहार मिलने गये। लेकिन हमारे पत्र का न तो कोई जवाब मिला और न ही कोई वहां जिम्मेदार व्यक्ति मिला। जब 12:30 बजे श्री सुभाष को फोन किया तो उन्होंने बताया कि विधायक जी शमशानघाट में हैं।

तीसरी बार मोहानिया के पी.ए. श्री सुभाष से मिलने का समय लिया गया तो उन्होंने 29 जुलाई, 2015 को दिन के 12 बजे मिलने के लिये बुलाया। उस समय भी एक प्रतिनिधिमंडल उनके ऑफिस में मिलने गये ताकि पानी न मिलने की समस्या का हल निकाला जा सके। लेकिन उनके ऑफिस में एक नौजवान लड़के के सिवाय वहां कोई भी जिम्मेदार व्यक्ति नहीं था। जब श्री सुभाष को फोन किया तो उन्होंने बताया कि विधायक दिनेश मोहानिया जल बोर्ड के उपाध्यक्ष का पद ग्रहण करने जा रहे हैं। इस दौरान जब वहां पर उनका इंतजार कर रहे थे तब वहां पर करीब 50 से अधिक महिलाएं पानी के टैंकरों की समस्याओं को लेकर आती रहीं और निराश होकर जाति रहीं। लेकिन उनकी समस्या को सुनने वाला कोई भी वहां मौजूद नहीं था।

हम आम आदमी पार्टी से काफी उम्मीद करते थे कि वह जनता के लिये काम करेगी यह नजारा देखकर लगता है कि यह भी कांग्रेस और भाजपा के रास्ते पर ही चल रही है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *