khadar_3_july-3.jpgलोक राज संगठन द्वारा जोर-शोर से दिल्ली में “पीने के पानी” के लिये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में पुनर्वास कालोनी मदनपुर खादर में 3 जुलाई, 2015 को एक सभा का आयोजन किया गया। सभा के शुरु होने से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री को दिये गये ज्ञापन की सैंकड़ों कापियां निवासियों में बांटी गयी।

khadar_3_july-1.jpg

सभा की शुरुआत करते हुये सन्तोष कुमार ने ज्ञापन को सभी निवासियों के सामने पढ़कर सुनाया और कहा कि 15 साल पहले पुनर्वास कालोनी मदनपुर खादर को यहां बसाया गया था। लेकिन आज तक यहां जो मूलभूत अधिकार लोगों को मिलने चाहिये वह नहीं मिला है। सबसे ज्यादा यहां पानी की किल्लत है पीने का पानी न होने के कारण यहां पर लोग कई घातक बीमारियां के शिकार बने हैं और बनते रहते हैं। सरकार की तरफ से कोई भी ट्रांसपोर्ट की उचित व्यवस्था नहीं है। यहां हजारों की तादात में लोग नौकरी करने जाते हैं खासकर महिलाएं, जिनको परेशानी का सामना करना पड़ता है। अस्पताल अभी बनाये जा रहे हैं, लेकिन पता नहीं कि कब वह चालू होंगे। विद्यालयों में मुलभुत सुविधाओं का अभाव है और बच्चों के अनुपात में अध्यापक नहीं हैं। इन सभी मुद्दों को लेकर तथा पानी के लिये यह अभियान पूरी दिल्ली में चलाया जा रहा है। अलग अलग जगहों की लोक राज समितियां इसमें सक्रिय हैं।

khadar_3_july-4.jpg

सभा को लोक राज संगठन के दिल्ली सचिव बिरजु नायक ने संबोधित किया, बताया कि पानी पूरे दिल्ली की समस्या। यह कालोनी को सरकार ने बताया था लेकिन फिर भी यहां पानी और सीवर नहीं है। स्कूलों में एक-एक अध्यापक पर 70 से 110 को पढ़ाने की जिम्मेदारी है। तो वह भला कैसे 100 बच्चों को पढ़ा सकते हैं। यहां पर ट्रांसपोर्ट की कोई सुविधा नहीं है। इन सब अधिकारों को लेने के लिये हमें लोक राज समितियों को मजबूत करना होगा और यह संघर्ष को आगे ले जाना होगा। जो लोक राज समिति पुनर्वास कालोनी ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया था तो स्वास्थ्य विभाग ने जवाब दिया है कि यहां पर दो डिस्पेसंरी बन नहीं है। अगर हम ऐसे ही संघर्ष करते रहेंगे तो सरकार को हमारी बातों को मानना होगा। उन्होंने बताया कि जब घर-घर बिजली मिल सकती है तो पानी क्यों नहीं मिल सकता है।

सभा को संबोधित करने में थे रेणु, अम्बिका, प्रेच सिंह चैहान, संदीप आदि। अंत में 12 जुलाई को खादर के राज नगर में जनसभा करने का आह्वान किया गया।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *