img_0990.jpg16 अक्तूबर, 2011 को ओखला औद्योगिक क्षेत्र में लोक राज समिति ने बुनियादी अधिकारों को लेकर एक शानदार जन सभा का आयोजन किया। यह जन सभा संध्या से लेकर रात्रि के 9 बजे तक चली। इसके आयोजन में संजय कालोनी लोक राज समिति की सक्रिय भूमिका के साथ-साथ क्षेत्र की दूसरी समितियां शामिल हुईं।

सभा स्थल को शानदार नारों के बैनरों तथा लोक राज संगठन के झंडों से सजाया गया था। इस जन सभा में औद्योगिक क्षेत्र के सैकड़ों निवासियों तथा मजदूरों के साथ-साथ, महिलायें भी बड़ी तादाद में उपस्थित थी। इस जन सभा में लोक राज संगठन के सर्व हिन्द अध्यक्ष, दिल्ली परिषद के सचिव तथा हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के दिल्ली सचिव आमंत्रित थे।

सभा की शुरुआत रंगभूमि नाट्य समूह के नौजवान साथियों के गीत से हुई।

लोकेश कुमार ने लोक राज समिति के द्वारा किये गये कामों को ब्यौरा दिया। शौच व्यवस्था के समुचित प्रबंध और पानी की सप्लाई को घर-घर में सुनिश्चित करने की मांग को लेकर चल रहे संघर्ष में आने वाली बाधाओं का उल्लेख किया।

उन्होंने बताया कि पानी के मुद्दे पर कांग्रेस और भाजपा का नज़रिया सिर्फ वोट बैंक वाला है। वे इसे एक बुनियादी अधिकार न मानकर भीख के रूप में दिये जाने वाले टुकड़े के रूप में देखती हैं। हमारे देश के कानून भी, रिहायशी जगहों की अलग-अलग परिभाषाओं में उलझाकर, उनमें रहने वाले लोगों को उनके बुनियादी अधिकारों से वंचित करते हैं। उदाहरण के लिए झुग्गी-झोपडि़यों और कच्ची कालोनियों में घर-घर में पानी के कनेक्शन के द्वारा पीने के पानी की सुनिश्चिति दिल्ली जल बोर्ड नहीं करता है क्योंकि इन कालोनी में रहने वाले लोगों के रिहायसी क्षेत्र कानून की परिभाषा के द्वारा ‘अवैध’ हैं।

img_0993.jpg

उन्होंने जनसभा में दिल्ली जल बोर्ड की काली करतूतों का पर्दाफाश करते हुए कहा कि इनके कागजों में संजय कालोनी में कई बोरिंग चालू हालत में हैं। लेकिन जब समिति ने दिल्ली जल बोर्ड के कागजों की पुष्टि की तो पाया कि अधिकांश दावे झूठे हैं। उन्होंने दिल्ली जल बोर्ड पर सत्ता तथा विपक्षी दलों के विधायकों, सांसदों तथा पार्षदों के वोट बैंक के माध्यम होने का आरोप लगाया।

समिति की सदस्य मीरा देवी ने कांग्रेस-भाजपा की गंदी राजनीति से बाहर आने की लोगों से अपील की। उन्होंने चुनावी पार्टियों के सदस्य बतौर अपने निजी अनुभवों को बांटा और इन पार्टियों से नाता तोड़कर समिति में शामिल होने का कारण भी बताया। हमें अपने अधिकारों को पाने के लिये अपने लोगों के बीच एकता बनानी होगी। अधिकारों के संघर्ष पर कांग्रेस पार्टी या भाजपा या अन्य किसी पार्टी के नाम पर बंटना नहीं चाहिये।

जन सभा को अपनी ओर से समिति को प्रोत्साहन देते हुये लोक राज संगठन के सर्व हिन्द अध्यक्ष श्री राघवन ने बधाई दी और कहा कि आपने इस इलाके में समिति को मजबूत किया है। उन्होंने कांगे्रस पार्टी और भाजपा द्वारा किये जा रहे बंटवारे की राजनीति से दूर रहकर अपने संघर्ष को तेज़ करने का संदेश दिया। मुझे बहुत खुशी है कि हमारे नौजवान बतौर नेता तैयार हो रहे हैं।
उन्होंने कहा कि हमारे लोगों के करोड़ों रुपये काले धन के रूप में विदेशी बैaकों में जमा हैं। हमारे देश में लोगों को महंगाई का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने हाल ही में प्रशांत भूषण पर हुये हमले की निन्दा करते हुये कहा कि यह सरकार लोगों के ज़मीर के अधिकार पर हमला कर रही है। लोक राज संगठन के कार्यकर्ताओं को ज़मीर के अधिकार की रक्षा के लिए आगे होना होगा।
हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी के वक्ता ने कार्यक्रम की सफलता पर बधाई देते हुये बताया कि यह बहुत खुशी की बात है कि मजदूर वर्ग के नौजवान नेता तैयार हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस वर्तमान व्यवस्था में लोगों के हाथ में सत्ता नहीं है। लोगों के हाथ में सत्ता लाने के लिये, ये समितियां एक साधन हैं। इन्हें मजबूत करना चाहिये और इनका तेजी से विस्तार करना चाहिये। हमें ऐसे तंत्र विकसित करने होंगे जहां हम नागरिक लोग मिलकर फैसला करेंगे कि किस चीज़ पर कितना पैसा खर्च किया जाये। जहां लोग अपने उम्मीदवारों का चयन करने में सक्षम होंगे। लोग कानून प्रस्ताव करने में सक्षम होंगे।

न्यू संजय कैंप के लोक राज समिति के सचिव रामरेखा प्रसाद ने पूरे दिल्ली स्तर पर राशन कार्ड के बनाने की कांग्रेस व भाजपा की धांधली के बारे में विस्तार से उल्लेख किया।

लोक राज संगठन के दिल्ली परिषद के सचिव बिरजू नायक ने सदस्यों से आह्वान किया कि बंटवारे की राजनीतिक के खिलाफ़ कड़ा संघर्ष करना चाहिए। बंटवारे की संकीर्ण राजनीतिक से ऊपर उठकर लोगों के अधिकारों के संघर्ष को तेज़ करें। समिति को गैर-पार्टीवादी के असूल पर कायम रहना होगा। समिति, व्यक्ति के विचारधारा, लिंग, क्षेत्रीय इत्यादि के आधार पर अधिकार के हनन का जायज़ नहीं ठहरा सकती है। समितियों को मजबूत करना चाहिये और इसमें ज्यादा से ज्यादा सदस्य जोड़ने चाहिए।

संतोष कुमार ने निवासी बतौर अपने अनुभव रखे। समिति सदस्यों के बीच उन्होंने उत्साह बढ़ाया।

चिरंजीत शाह ने नौजवानों से स्थानीय समस्याओं के खिलाफ़ एकजुट होने का आह्वान दिया।

समापन भाषण समिति के अध्यक्ष अशोक गुप्ता ने रखा।

रंग भूमि नाट्य समूह के कलाकारों ने क्रांतिकारी गीत पर भांगड़ा नृत्य पेश किया। लोग इस गीत पर झूम उठे। इसी गीत के साथ सभा का समापन किया गया।
img_1008.jpg

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *