sikhs

1984 में राज्य द्वारा आयोजित सिखों के कत्लेआम की 33वीं बरसी पर विशाल रैली

Submitted by admin on Sun, 2017-11-12 12:29

1984 में राज्य द्वारा आयोजित सिखों के कत्लेआम की 33वीं बरसी के अवसर पर लोक राज संगठन सहित लगभग 20 संगठनों ने मिलकर सुप्रीम कोर्ट के सामने एक संयुक्त प्रदर्शन रैली आयोजित की.

लोक राज संगठन के अध्यक्ष एस राघवन ने हिन्दोस्तानी राज्य पर सवाल उठाते हुए कहा कि, हम इस राज्य को जनतांत्रिक कैसे कह सकते है, जब यह राज्य इंसाफ के संघर्ष कर रहे रहे लोगों को रैली निकालने से रोकता है. इस अवसर पर इतने सारे संगठनों का एक साथ आना यह साफ़ दिखता है कि 1984 की इस कत्लेआम को ना तो हम भूल सकते है और ना ही हम गुनाहगारों को माफ़ कर सकते है.

Rousing rally in the capital on the 33rd anniversary of the state-organized massacre of Sikhs in 1984

Submitted by admin on Wed, 2017-11-08 13:54

On the 33rd anniversary of the state-organized massacre of Sikhs in 1984, citizens and activists from many organizations came together in a joint rally in front of the Supreme Court. The demonstration was jointly organized by some 20 organisations including Lok Raj Sangathan.

S Raghavan, President, Lok Raj Sangathan, questioned how India can be called the largest democracy when those who are fighting for justice are prevented from taking out a rally. The very fact that so many organisations have gathered here means that we cannot forgive or forget this gruesome massacre.

बच्चे बोले-1984 के सिख विरोधी दंगों के दोषियों को मिले सख्त सजा

Submitted by admin on Thu, 2017-11-02 13:14

Thumbnailजागरण संवाददाता, नई दिल्ली : 1984 के सिख विरोधी दंगों की 33वीं बरसी पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट के नजदीक शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया गया। इसमें स्कूली बच्चों ने भी हिस्सा लिया। लोक राज संगठन के तत्वावधान में आयोजित प्रदर्शन में बच्चे हाथों में तख्तियां लेकर पहुंचे थे। इस दौरान बच्चों ने सांप्रदायिक सौहार्द बनाये रखने की अपील के साथ-साथ सिख दंगों के दोषियों को सख्त सजा दिए जाने की मांग भी की।

प्रेस रिलीज़ : राज्य द्वारा आयोजित सिखों के क़त्लेआम की 33वीं बरसी पर जुझारू रैली में गुनहगारों को सज़ा दिलाने की मांग उठायी गयी

Submitted by admin on Wed, 2017-11-01 18:04

Thumbnail1984 में राज्य द्वारा आयोजित सिखों के जनसंहार की 33वीं बरसी पर, अनेक संगठनों के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने आज दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के सामने प्रदर्शन किया।

इस कार्यक्रम को आयोजित करने वाले थे - लोक राज संगठन, जमाअत-ए-इस्लामी हिन्द, पोपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया, हिन्दोस्तान की कम्युनिस्ट ग़दर पार्टी, सिख फोरम, यूनाइटेड मुस्लिम्स फ्रंट, सीपीआई (एम.एल.) न्यू प्रोलेतेरियन, सोशलिस्ट पार्टी (इंडिया), सोषल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया, एसोसिएशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ सिविल राइट्स, एस.ए.एच.आर.डी.सी., मज़दूर एकता कमेटी, वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया, सिटीजन्स फॉर डेमोक्रेसी, आल इंडिया मुस्लिम मजलिस-ए-मुशावरत (दिल्ली राज्य), पुरोगामी महिला संगठन,  सांइटिफिक सोशलिज्म जर्नल, हिन्द नौजवान एकता सभा, एन.सी.एच.आर.ओ., स्टूडेंट इस्लामिक ऑर्गनाइजेशन।